नौकरी खोजते समय ध्यान में रखने के लिए 2019 के वर्तमान रोजगार प्रचलन

नौकरी खोजते समय ध्यान में रखने के लिए 2019 के वर्तमान रोजगार प्रचलन
नौकरी खोजते समय ध्यान में रखने के लिए 2019 के वर्तमान रोजगार प्रचलन
दिन-ब-दिन, भारत से लाखों युवा और अनुभवी प्रतिभाशाली लोग उभरते हैं और अपना भविष्य संवारने के लिए अपने आपको नौकरी की खोज के अनुकूल बनाने में लग जाते हैं। इसलिए, हममें से कइयों के मन में यह सवाल उठता है कि क्या उन कंपनियों में उन्हें सम्मानपूर्ण पद पर रखने के लिए सचमुच भर्तियां हो रही हैं? 2018 में महसूस की गयी गिरावट की वजह से, इस दुविधा ने विभिन्न क्षेत्रों में पहले ही काफी अनचाहे प्रभाव दिखाए हैं। लेकिन फिर भी, इस परिस्थिति के बावजूद, भारत में नौकरी खोजने वालों के लिए एक उम्मीद बनी हुई है, क्योंकि यह देश विश्व के अन्य देशों की तुलना में उतना अधिक प्रभावित नहीं हुआ है। भारत की सर्वश्रेष्ठ कंपनियां और संगठन अभी भी प्रतिभाशाली फ्रेशर्स और अनुभवी लोगों की तलाश में हैं।


बड़े शहरों में रोजगार प्रचलन

दिल्ली, मुंबई, चेन्नई और बैंगलोर जैसे मेट्रो शहरों में सभी प्रकार के प्लेटफॉर्मों पर रोजगार के व्यापक और विविध अवसर मौजूद हैं। हालाँकि, 2018 में पूरे साल डिजिटलकरण, विमुद्रीकरण और जीडीपी के कारण एक वित्तीय संकट जैसी स्थिति बनी रही, फिर भी आगे के वर्ष में तेजी से बढ़ते हुए विभिन्न क्षेत्रों और तकनीकों में अभी भी संभावना दिखाई दे रही है। इन शहरों में वित्त और बैंकिंग सेवाओं से संबंधित KPO सेक्टरों की भर्तियों में बड़ा इजाफा देखा जायेगा। बड़े शहरों के बुनियादी ढाँचे से संबंधित क्षेत्रों में आउटसोर्सिंग का विकास भी देखा जायेगा।

कुछ क्षेत्रों में बड़ा विकास

इसमें कोई आश्चर्य नहीं होना चाहिए कि भारत का घरेलू बाज़ार विभिन्न भावी विकासशील क्षेत्रों में कुछ अच्छे संकेतों की तलाश कर रहा है। भारत दशक का सबसे मजबूत विकासशील देश है, इसके इन कुछ आगामी क्षेत्रों में बड़ा विकास देखने की उम्मीद की जा रही है। इस घरेलू रोजगार बाज़ार की वृद्धि के साथ, फ्रेशर्स और नौकरी खोजने वाले अनुभवी लोगों दोनों के पास भारत में रोजगार के बहुत सारे अवसर उपलब्ध होंगे।

चलिए अब उन क्षेत्रों में नयी रोजगार भर्तियों पर एक नज़र डालते हैं, जिनके आने वाले2019 में बढ़ने की संभावना है,

स्वास्थ्य देखभाल
फार्मास्यूटिकल्स
बीमा
कृषि क्षेत्र
सिविल प्रॉसेस आउटसोर्सिंग (CPO)
इन सबके अलावा, एक सर्वेक्षण यह भी साबित करता है कि मध्य पूर्व के देशों से व्यापार के काफी अवसर मिलने की संभावना है।

वे क्षेत्र जो 2019 में रोजगार प्रदान कर सकते हैं 

2019 में, अर्थव्यवस्था में रोजगार-रहित विकास के खतरे मेंकमी होने के अलावा, भारत कई क्षेत्रों में रोजगार के नए अवसर देने की उम्मीद कर रहा है। भारत के लोकप्रिय पेपर संस्करण के अनुसार, यह पाया गया है कि आने वाले वर्ष में सबसे ज्यादा नियुक्तियां करने वाले क्षेत्रों में शामिल होंगे,
विधि और कानून
लेखांकन कर
मानव संसाधन
चिकित्सा पेशेवर
व्यावसायिक परामर्शदाता
और फ्रीलांस प्रोफाइल भी।
हालाँकि, “2019 में भारत”में प्रकाशित एक लेख यह कहता है कि ये पूर्वानुमान दूसरे विभिन्न क्षेत्रों की तरफ भी जा सकते हैं। विभिन्न व्यावसायिक लीडरों और तेजी से बढ़ने वाले उद्यमों मेंकिये गए सर्वेक्षण के अनुसार, वर्ष 2019 नौकरी खोजने वालों के लिए बहुत अधिक संभावनाओं से भरा होगा। ये अनुमान नीचे दिए गए इन क्षेत्रों के लिए लगाये गए हैं:
परिवहन और लॉजिस्टिक्स
IT और ITeS उद्योग
फिनटेक
ई-कॉमर्स
ऑटो टेक्नोलॉजी
रियल एस्टेट
FMCG
व्यवस्थित खुदरा
उपरोक्त क्षेत्रों में, भारत के ज्यादा रोजगार उत्पन्न करने की संभावना है। निश्चित रूप से, यह सभी IT और ITeS उद्योगों में नौकरी की खोज में भी एक स्थिरता लायेगा। भारत अगले पांच सालों में, उपरोक्त क्षेत्रों में दस लाख से ज्यादा लोगों को रोजगार देने की उम्मीद कर रहा है। इसके अलावा, भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी उद्योग आने वाले दिनों में लगभग 1.8–2.0 लाख रोजगार प्रोफाइल खोजे जाने की उम्मीद कर रहा है।

प्रचलित रोजगार दृष्टिकोण का सार

नए प्रकाशित सर्वेक्षण में, 2019 में भारत को जापान और ताइवान के बाद, लोगों को नियुक्त करने वाला सबसे क्षमतावान देश माना गया है। 4,500 नियोक्ताओं के बीच किये गए इस सर्वेक्षण ने दिखाया कि लगभग 22% कंपनियां 2019 में अपने कर्मचारियों का स्तर बढ़ाएंगी। इन मापदंडों में भारत की संपूर्ण संभावना ने विभिन्न मंचों पर देश के विकास को बदलने और बेहतर बनाने का अनुमान लगाया है।
एक जॉब पोर्टल के आंकड़ों से पता चलता है कि भारत में, सर्वेक्षण में शामिल 2000 नियोक्ताओं में से 67 प्रतिशत, नए रोजगारों की और वर्ष की पहली दो तिमाहियों में विभिन्न नए रोजगार निर्माणों की उम्मीद कर रहे हैं। इसके अलावा, 2019 के पूरे साल में 76 प्रतिशत से ज्यादा संगठन अपनी नियुक्ति के बजट में वृद्धि करेंगे।
इन पूर्वानुमानों के साथ, भारत ने पहले ही सभी क्षेत्रों में नियुक्तियों में 10 से 15 प्रतिशत की वृद्धि दर दिखाई है। पिछले पांच वर्षों के विकास से तुलना करने पर देश के इस संपूर्ण विकास को एक बड़े परिवर्तन के रूप में भी देखा जा रहा है।

अन्य सभी घरेलू प्लेटफॉर्मों पर अवसर

चूँकि हमारा देश कई प्लेटफॉर्मों पर रोजगार के नए व्यापक अवसर प्रदान कर रहा है, इसलिए आपको इन क्षेत्रों में भी नौकरी खोजने में कठिनाई नहीं होनी चाहिए। जी हाँ, लेखांकन रोजगार, स्टेनोग्राफर रोजगार, पर्यवेक्षण रोजगारऔर सहयोग कर्मचारी रोजगारजैसे विभिन्न क्षेत्रों में बहुत सारी भर्तियां आने वाली हैं। ऐसी रोजगार भर्तियों के लिए विकल्पों की कोई कमी नहीं है। और आप भारत के मेट्रो शहरों में इसे आसानी से खोज सकते हैं। चूँकि, इन बड़े शहरों में कई संगठन और छोटी कंपनियां विकसित हो रही हैं इसलिए किसी व्यक्ति के लिए ऐसी किसी कंपनी में काम पाना मुश्किल नहीं होगा। अगर वो पेशेवर रूप से योग्य हैं और अधिकतम आउटपुट देने में समर्थ हैं तो उनके पास इन घरेलू क्षेत्रों में भी काफी भर्तियां मौजूद हैं।
देश के कोने-कोने में नयी तकनीकों के आने के साथ, आप इनके प्रयोग से भी नयी नौकरियों की तलाश कर सकते हैं। आपके लिए बहुत सारे ऑनलाइन जॉब पोर्टल मौजूद हैं। आप अपनी प्रोफाइल बनाकर खुद को रोजगार उपलब्ध करा सकते हैं और खुद भी नौकरी खोज सकते हैं। उनमें से एक है Just.Jobs, जहाँ आप अपने लिए सही नौकरी पा सकते हैं। 



loading...
Loading...