Health Tips ~ नाक के रोगो का घरेलू इलाज हिंदी में पढ़े

Health Tips ~ नाक के रोगो का घरेलू इलाज हिंदी में पढ़े
Health Tips ~ नाक के रोगो का घरेलू इलाज हिंदी में पढ़े 

Loading...

नाक के रोगो का घरेलू इलाज

हमारे शरीर में बहुत सरे यंग है उसमे एक नाक भी हि है नाक हमारे चेहरे की सुंदरता को बढ़ता है और किसी भी चीज को सूंघने में मदद करता है पर नाक में अलग अलग तरह की बीमारी हो जाती है इस आर्टिकल में हम जानेगे की उससे कैसे ठीक क्र सकते है घरेलु नुख्सो से तो चलिए जानते है।
अधिक दिनों तक (सर्दी जुकाम ) रहने से नाक में तरहतरह के रोग हो जाते हैं। इस हेतु उपाय १. यदि नाक में सर्दी के कारण फुन्सियाँ हो गई हों, तथा नाक में सूजन आ गई हो तो षड्बिन्दु तेल (डाबर/वैद्यनाथ के) का लेकर २ से ४ बूँद सीधे लेटकर नाक में ३४ बार डालते रहें एवं ऊपर से थोड़ी रूई लगा दें कम से कम ३० मिनट लेटे रहें। इस प्रकार करने से नाक की फुन्सियाँ ठीक हो जाती है। नाक से बदबू आना रूक जाती एवं नाक में हड्डी बढ़ने की सम्भावना रूक जाती है।

यदि नाक में बड़ीबड़ी पुफुन्सी बिना सर्दी के अचानक हो जाए तो इतवार (रविवार) बुधवार की सुबहसुबह से कोई पूफूल मँगाकर सूंघ कर रास्ते मेंफैक दो। फुन्सियाँ ठीक हो जाएगी यह तंत्र है आजमूदा है।
नाक से खून गिरना (नकसीर) रात्रि में २० गा्रम मुल्तानी मिट्ठी २५० ग्राम पानी में भिगो दें खूब हिलाएँ २३ बार हिला दें सुबह उसका ऊपर का जल पीने से नाम का खून बंद हो जाएगा। आजमूदा प्रयोग है।

अनार के फूलों का रस अथवा दूब के स्वरस की नस देने से नाम का खून गिरना बन्द हो जाता है
*********************************************************************************
*********************************************************************************

loading...
Loading...