[Health Tips] बच्चो का बिस्तर पर पेशाब करने का इलाज इन हिंदी

बच्चो का बिस्तर पर पेशाब करने का इलाज इन हिंदी 

अक्सर छोटे बच्चे रात में सोते समय बिस्तर गीला कर देते है जो की एक सामान्य समस्या है और यह समस्या समय के साथ ठीक भी हो जाती है लेकिन बड़ी उम्र के बच्चे अनजाने में बिस्तर गीला करते है तो यह एक बीमारी हो सकती है। वयस्क पुरुष इसके बारे में बताने में शर्मिंदगी महसूस करते है और सहमे रहते है ये सोच कर की कही वो हंसी मजाक का पात्र न बन जाए। आज इस लेख में हम आपको एक ऐसा अचूक उपाय बताएंगे जिसकी मदद से बच्चो की इस आदत से छुटकारा पा सकते है।

बच्चो का बिस्तर पर पेशाब करने का इलाज इन हिंदी,bistar par peshab ka ilaj in hindi,bed wetting solution in hindi, बिस्तर गीला न करने के उपाय, नींद में पेशाब करने की बीमारी
बच्चो का बिस्तर पर पेशाब करने का इलाज इन हिंदी


बिस्तर पर पेशाब करने का कारण


बच्चो का बिस्तर पर पेशाब करने से रोकने के लिए इस समस्या का कारण पता होना बेहद जरूरी है, जैसे की-
1. रात में पेशाब का अधिक निर्माण होना और ब्लैडर का जरूरत से अधिक कार्यशील होना
2. डरावने सपनो के कारण भी बच्चे पेशाब करने पर काबू नही कर पाते और बिस्तर गीला कर देते है।
3. नींद में बिस्तर गीला करने का कारण शारीरिक और मानसिक समस्या भी हो सकती है।
4. पेट में कीड़े होने पर भी बच्चे रात को गहरी नींद में बिस्तर पर पेशाब करते है।

********************************************************************************************************
Health Tips खांसी से बचाव के लिए घरेलू उपचार

                     वज़न कम करने और घटाने के टिप्स और तरीके

********************************************************************************************************

बच्चो का बिस्तर पर पेशाब करने का इलाज इन हिंदी,bistar par peshab ka ilaj in hindi,bed wetting solution in hindi, बिस्तर गीला न करने के उपाय, नींद में पेशाब करने की बीमारी
बच्चो का बिस्तर पर पेशाब करने का इलाज इन हिंदी


बिस्तर गीला न करने के उपाय इन हिंदी



बच्चो को नींद में पेशाब करने की आदत से छुड़वाने के लिए उनके माता- पिता को बच्चे के भोजन की कुछ आदते सुधारनी जरूरी है जैसे की श्याम के समय अधिक तरल पदार्थो का सेवन नही करना चाहिए और सोने से 1 घंटे पहले भोजन करा देना चाहिए।
केला हर मौसम में उपलब्ध होता है और बच्चो के आहार में इसे जरूर शामिल करना चाहिए क्योंकि ये नींद में पेशाब करने की समस्या को कम करने में कारगर है। प्रतिदिन 2-3 केले का सेवन पेट के लिए भी अच्छा माना जाता है।
अखरोट एक मेवा ही नही बल्कि उत्तम औषधि भी है। बच्चो को प्रतिदिन एक अखरोट और 5-6 किशमिश दे इससे उनकी शिकायत दूर हो जाएगी।
अगर आपको बच्चो का बिस्तर पर पेशाब करने का इलाज इन हिंदी लेख उपयोगी लगता है और आप समझते है की यह लेख पढ़कर किसी की स्वास्थ्य को फायदा मिल सकता है तो कृपया इस लेख को शेयर जरूर करें।

By - Vishwas


loading...
Loading...