[SEO Tips] SEO सीखें और वेबसाइट को फर्स्ट पेज पर रैंक कराये

[SEO Tips] SEO सीखें और वेबसाइट को फर्स्ट पेज पर रैंक कराये
[SEO Tips] SEO सीखें और वेबसाइट को फर्स्ट पेज पर रैंक कराये 

========================================================================

[SEO Tips] SEO सीखें और वेबसाइट को फर्स्ट पेज पर रैंक कराये 

========================================================================
loading...

Learn SEO Tutorial in Hindi SEO क्या है और कैसे करते हैं SEO से Website को SERP में टॉप रैंक पर लाया जा सकता है. SEO से वेबसाइट का Traffic Improve होता है. ऑनलाइन Earning के लिए वेबसाइट पर ट्रैफिक का होना बहुत जरूरी है. Online Income directly proportional to Traffic. Quality Traffic से Earning ज्यादा अच्छा होता है.

इस SEO Tips का steps follow कर वेबसाइट का ट्रैफिक और search engines में रैंकिंग दोनों improve किया जा सकता है. किसी भी ब्लॉग या वेबसाइट का ट्रैफिक बढ़ाने के लिये Blog का SEO (Search Engine Optimization) करना बहुत जरुरी है. आज Google मे हर रोज़ लाखों में ब्लॉग पब्लिश होता है. ऐसे में 99% ब्लॉग इस भीड़  मे  खो जाता है और किसी को नज़र नहीं आता है. ऐसा न हो इसके लिये वेबसाइट / ब्लॉग का SEO जरुरी है.



*********************************************************************************
Read Also - [SEO Tips] बैकलिंक क्या है ये ब्लॉग SEO के लिए क्यों जरूरी है जाने हिंदी में
                  
                    [SEO Tips] Google के first पेज पर वेबसाइट कैसे रैंक कराये !
*********************************************************************************

 SEO Tutorial in Hindi

SEO कैसे करते हैं यह सीखने से पहले इसके बारें में कुछ Basic जानकारी आपके पास होना चाहिए. SEO क्या है Basics Of SEO SEO की शुरुआत Domain Name Register करने से ही शुरू हो जाता है. किसी Specific Product या Niche Related ब्लॉग बनाने के लिए Domain Name में Keyword शामिल करना चाहिए.

SEO Kya Hai :

Search Engine Optimization से Organic Users मिलता है. इसे एक Example से समझते हैं जब भी Search Engine पर कुछ Search किया जाता है हमें एक Search Result दिखता है इसे SERP (Search Engine Page Result) कहते हैं. इसमें दो तरह के Result के Result दिखते है.

Organic : जो SEO से संभव है.
Inorganic : जो Google Adwords में Advertisement के माध्यम से Traffic मिलता है.

Search Engine Optimization से Google SERP में टॉप रैंक हासिल करना बहुत आसान है लेकिन, उसमे बने रहना उतना ही कठिन है. इस SEO Tutorial in Hindi की मदद से वेबसाइट / ब्लॉग को टॉप में लिस्ट कर सकते हैं. टॉप लिस्ट में बने रहने के लिए लगातार ऐसा करते रहना होगा.

Learn SEO Step by Step

SEO Tutorial को दो Parts में Devide किया गया है. On Page Seo Tutorial and Off Page Seo Tutorial. दोनों के बारें में detail में Post Share किया जा चुका है. इसे Detail में पढने के लिए Related Link पर Click करें.

On Page SEO Tutorial in Hindi

Step 1 : ब्लॉग / वेबसाइट का SEO करने के लिए सर्च इंजन को Website के बारें में बताना होता है. ध्यान रहे Blog Post User के लिया लिखा गया हो. कुछ Bloggers Content भी Search Engine के लिए लिखने लगते हैं.

Step 2 : Blog / Website Google, Yahoo, Bing सहित अन्य सर्च इंजन में सबमिट करें.

Step 3 : सर्च इंजन में साईट सबमिट करते ही साईट का डाटा सर्च इंजन के डेटाबेस में स्टोर हो जाता है.

Step 4 : Blog Post लिखने के लिए सही Keyword का चुनाव करें.

Step 5 : Blog Post में कई Parts होता है. सभी Parts में keyword use करें.

* Post Title
* Meta Description
* Headings
* Content
* Post URL

Site का XML Sitemap Google Webmaster Tool में Submit करें. इस फाइल में साईट की सभी जानकारी होती है.

Step 6 : साईटमैप के फाइल से Google Bot साईट को क्रॉल कर डेटाबेस में स्टोर कर पाते हैं.

Step 7 : ब्लॉग पोस्ट में इस्तेमाल किया गया इमेज के Alt Tag में Keyword Use करें. Search Engines किसी भी मीडिया फाइल को नहीं पहचनता है. Alt Tag में जो भी Keyword enter करोगे search engine उसे उसी नाम से अपने Database में Store करेगा.

Step 8 : Content नया और High-Quality होना चाहिए. इसके लिए कुछ Standard Formats है.

Step 9 : Blog Post का Lenght average से ज्यादा होना चाहिए. Post ज्यादा बड़ा करने के लिए unrelated words Use नहीं करें.


Step 10 : Internal Linking the best SEO Practice है. Internal Linked Site Search Engine और User दोनों के लिए अच्छा होता है. Wikipedia इसका the best example है. बेहतर Internal Linking के लिए Blog में Post ज्यादा होना चाहिए.

Step 11 : ब्लॉग / वेबसाइट Regular Update करने से पोस्ट की संख्या बढ़ जाएगी जिससे Internal linking करना आसान हो जायेगा. Regular Update करने से Search Engine के Crawler daily website को Crawl करते हैं.

Off Page SEO Tutorial in Hindi

Step 12 : सबसे ज्यादा Users Social Media Sites पर है. सभी Popular Social Media Page (Facebook Fan Page, LinkedIn Company Page, Google Brand Page) और Profiles (Facebook Profile, LinkedIn Account, Twitter Account, ) पर Page Create कर Regular Post Share करें. आपने अभी तक इस Post को अपने Social Media Profile पर Share नहीं किया है !

Step 13 : Backlinks, यह बुत ही Important Topic है. SERP में Top Rank के लिए Site का Backlink बनाना बहुत जरूरी है. Backlink दो तरह की होती है Dofollow, Nofollow. Related Site से Dofollow Backlink मिल जाये तो सोने पर सुहागा !

Step 14 : Post हमेशा Search Engines के Guidelines को follow करते हुए Readers के लिए लिखें. Blog Post Comment Allow करें. Readers के Comment का जवाब दें. Blog पर Engagement बढ़ाएं इससे बढ़ता है और Bounce Rate कम होता है.

Step 15 : Blog Post Title और Meta Description Meaningful और Attractive होना चाहिए. SERP में User Blog Post Title और meta description पढ़कर किसी link पर Click करते हैं. Title और Description दोनों में Keyword का इस्तेमाल करें. इसका सही इस्तेमाल कर SERP में Rank किया जा सकता है. लेकिन, Main Content Title के according नहीं हुआ तो User Window Close कर देगा, जिससे Bounce Rate बढ़ जायेगा.

Step 16 : Website की Loading Time कम करनी होगी. Website Fast load hone से User को Website open होने का इंतज़ार नहीं करना पड़ता है. Site Loading Speed यह बहुत बड़ा issue है. Example से इसे समझाता हूँ,


कोई User Google में Keyword Search किया
Result में उसे कई Website के link मिले.
User ने किसी एक पर Click किया
लेकिन Website Open होने में ज्यादा समय ले रहा है तो
User back होता है और दूसरी Site Open करता है.
इसीलिए Website Load Time कम होना चाहिए.

Step 17 : Mobile Friendly Responsive Design Use करें. Responsive Design को किसी भी Device में Browse करने के लिए सिर्फ Up and Down Scroll करना पड़ता है. Left/Right Scroll नहीं करना पड़ता है. Responsive Design होने से User Easily Browse कर पता है.

इसके अलावे भी SEO में कई Points है जिसे Follow करना होगा.

SEO एक ऐसा Topic है जिसका कोई अंत नहीं है.
यह एक Experience है जो Practice करने से मिलता है.

Check out my new blog Related to - Seo, blogger Tips, Wordpress Tips 


loading...
Loading...