[SEO Tips] Google के first पेज पर वेबसाइट कैसे रैंक कराये !

[SEO Tips] Google के first पेज पर वेबसाइट कैसे रैंक कराये !
[SEO Tips] Google के first पेज पर वेबसाइट कैसे रैंक कराये !

=====================================================================

[SEO Tips] Google के first पेज पर वेबसाइट कैसे रैंक कराये !

=====================================================================
loading...
BackLinks क्या है? SEO के लिए BackLinks कितना जरूरी है? BackLinks kya hai, SEO ke liye Backlinks Kitna jaroori hai full Guide in Hindi. आज के Post में हम backlinks के बारें में जानेंगे. यह क्या है, और यह Kyu jaroori hai ? SEO मतलब Search Engine Optimization मतलब Blog Content को Search Engine के अनुकूल बनाना. जी हाँ यदि आप Blog के Post Link को SERP (Search Engine Page Result) के First Page पर देखना चाहते हो तो Blog Post के Content को Search Engine के अनुकूल बनाना होगा. इसका मतलब यह नहीं कि Content Search Engine friendly हो लेकिन User friendly नहीं हो. Blog Post हमेशा User को ध्यान में रख कर करें. User Satisfaction पर ध्यान दें User satisfied हो गया तो Medium automatic satisfy हो जायेगा.

“Backlinks” SEO (Search Engine Optimization) का main part है. यदि आप Blogging, Domain, Hosting, Website Designing field में new comer हो तो भी Tension लेने की कोई बात नहीं है.


Backlink Kya Hai


Backlink नाम से ही पता चलता है ऐसा लिंक जिससे User किसी अन्य Website से आपके Website पर Visit करता है. suppose Visitor Website A से Website B पर आता है. यहाँ Website B का Backlink Website A par hai. Website का SEO score improve करने के लिए Quality Backlinks create करना पड़ता है.

Search Engine में कोई Keyword Search करने पर SERP में जो Top 10 Post Link दिखाया जाता है, उसका Backlinks बहुत ज्यादा होता है. कुछ महीने पहले तक Webpage के Ranking में Backlinks बहुत बड़ा Role Play करता था, अभी भी SEO Point of view से Webpages के लिए Backlinks बहुत जरूरी है लेकिन अब Quality Backlinks की जरूरत पड़ती है.

Blog / Website के लिए Backlinks क्यूँ जरूरी है How Backlinks Help Blog and Website :


#1. Referral Traffic


सबसे पहले हम जानेंगे Referral Traffic क्या है, यह ऐसे Visitors का List है जो Search Engine से नहीं बल्कि किसी अन्य Website पर के Direct Link से Blog / Website को Visit करते है. Google Analytics में Check कर सकते हैं कितना Percent Referral Traffic आपके Blog / Website पर आता है.

Referral Traffic इन्हीं Backlinks की वजह से आता है. यदि आपके Blog का Link इस Website पर है मतलब आपके Blog का Backlink इस Website पर है. User इस Website के Link को Click कर आपके Blog तक जाता है मतलब यह Referral Traffic हो गया.

यदि आप Referral Traffic चाहते है तो आपको Backlinks की जरूरत है. In general Referral Traffic Target Traffic होता है यह Blog के Bounce Rate को Increase देता है. इसलिए Backlink बनाते समय relevancy पर ध्यान दें.


#2. Increase Crawl Rate (Blog का Crawl Rate बढ़ जाता है) : 


Crawl rate बढ़ने का मतलब है Indexing fast हो जाता है. Relevant Backlinks search engine bots को Blog के links discover कर कर उसे Crawl करने में बहुत Help करता है. यदि आप कोई नई Blog बनाने की सोच रहे हो तो Relevant Blog और Website का List भी तैयार कर लें. आगे मैं बताऊंगा कैसे इन Blogs / Websites पर Backlinks Create करते हैं.




#3. SERP Improvement (Organic Traffic ज्यादा आता है) :


Backlinks जितना अच्छा होगा Search Engine में Blog की Ranking उतनी ही अच्छी होगी. अच्छे Backlink का मतलब है, Relevant Backlink से है. Search Engine Post को Top में Show करने के लिए कई parameter Check करता है. जिसमे से एक Backlink भी है. कितने related Blog और Website आपके Content को recommend करता है. जितना ज्यादा recommendation मिलेगा उतना अच्छा है. Backlink Home page के साथ – साथ Individual Post का भी बनायें.


#4. Name to Brand Name (Brand Name बनने में मदद करता है) :


Popular Website पर Blog Link Submit करने से SEO में तो help मिलता ही है साथ ही जब अच्छे Websites पर Blog Post को Like, Comment और Share मिलने लगता है तो आपके Blog का नाम Brand Name में Convert होने लगता है. अच्छे Website पर link होने से readers के बीच आपकी Credibility बढती है. जिससे Readers, Followers में Convert होने लगते है. Branding के लिए Natural Backlinks Use करें अन्यथा Google penalize भी कर सकता है.


#5. Build New Relationship :


Link Building से आप relationship भी बना सकते हो. यदि कोई आपके Post को Like, Share, retweet करता है तो आप भी उसके Post को Like, Share, retweet करें. ऐसा करने से Virtual word में अच्छे relation बनते हैं. Relationship build करने से future advertisement भी मिल सकता है.


#6. Promotion (प्रचार)


Backlinks से आपके Blog का free में Promotion भी होता है. Blog की reach बढती है.


Backlinks के लिए Start कहाँ से करें 


Backlink Create करने से पहले जान लें SEO में Number of Backlinks से कोई फायदा नहीं मिलता बल्कि Quality backlinks से फायदा मिलताहै. Backlinks के लिए किसी Paid Service का Use करने से बचें. Paid Backlinks से आपके Blog को Punishment मिल सकता है.

Backlinks के लिए शुरुआत Social Media Website से शुरुआत करें साथ ही नीचे कुछ Points मैं mention कर रहा हूँ जिसे आप follow कर सकते हैं. Quality Backlinks Create करने के लिए निम्न तरीके अपना सकते हैं.

Unique और Quality Post लिखें : Blog पर Readers post पढने के लिए आते हैं. जब तक Content में Quality नहीं होगा वो समय नहीं देगा. यदि Readers को Long term के लिए Engage करना चाहते हो तो Quality Content ही एक मात्र option है. Niche के according Post Select करें. How To, What is, Tutorials, Comparison, Review, Case Study यह सब अच्छे Examples है.

Start Comment : In general Comment से Nofollow Backlink मिलता है. यह Site Ranking में मदद नहीं करता है लेकिन Blog Comment से Link Juice Create होता है जो Future के लिए beneficial होता है. Comment कर Backlinks Create करने के लिए Dofollow Blogs और Dofollow Forum पर Top Commentator Plugin Use कर Comment करना start करें. Comment से मिले backlinks ज्यादा अच्छे नहीं होते हैं लेकिन आपने सुना होगा बैठे से बेगार भला यह बिलकुल उसी तरह है कुछ नहीं से अच्छा है कुछ ! .

Link Submission : Link Submission का मतलब है Related Directory पर Blog के Home Page के साथ – साथ Blog Post के Link को भी Submit करें. Link Submission बहुत tough है क्यूंकि Legal और अच्छा Directory find करना tough है. हमेशा Natural Backlink के लिए काम करें. इसके अन्दर Link Exchange भी आता है भूल कर भी यह काम नहीं करे. Backlink के लिए Automated Direct Submission Trick Use करने से बचें. Automatic Submission as a Spam Count होता है. Future में इससे Problem हो सकता है.


Social Media Sharing : Social Media Sharing Link buildup करने का सबसे आसान और Genuine तरीका है. इसके लिए सभी Famous Social Media Platforms पर Blog Post का Link Share करें. Social Media पर Link Share करने से Backlinks के साथ Branding और Promotion भी होता है. जिससे Blog का Reach बढ़ता है.

Contexual Backlink : Quality sites से backlinks का मतलब है Backlinks contextual होने चाहिए। For Example : यदि आपकी Website Travel के बारे में है तो आपकी Backlink High PR Travel Site से हो.

Back Link से जुड़े हुए कुछ Terms जिसे जानना आपके लिए बहुत जरूरी है :

अब तक हमनें जाना

Backlink क्या है What is Backlink ?
Backlink से क्या फायदा है What is benefits of Blogging ?
Backlink बनाना कहाँ से Start करें How to start Create Backlink ?
इन सब Topic में कुछ नए Terms (Words) use किया गया है. जैसे Dofollow, Nofollow, Interlinking, Link Juice. यदि आप इन सभी Terms से अपरिचित हैं तो जरूर पढ़ें.

Dofollow BackLink : By defaults blogs में सभी Links Dofollow होते हैं. Dofollow links Link Juice Pass करता है जिसकी मदद से Search Engine Website को Easily Crawl करती है. Dofollow Backlink का मतलब है Recommendation, Support.



Nofollow Backlink : Blog Post में जब किसी अन्य Website की बात आती है तो हम उसमे Nofollow Tag लगा देते हैं. ऐसा करने से Backlink तो बनता है लेकिन Search Engine का Bots उस Link को Crawl नहीं करता है मतलब Link Juice Pass नहीं होता है. Comment हमेशा Nofollow रहता है.

Internal Links : ऐसे links जो Same Website के एक page को दुसरे page से link करता है और इस process को internal linking कहा जाता है. Interlinking से Bounce Rate घटता है. User Engagement बढ़ता है.

Anchor Text : वह Text जिसे Hyperlink के लिए Use किया जाता है. Anchor Text Backlinks Particular keywords को Rank कराने में मदद करता है.

Link Juice : Link Juice का मतलब Interlinking ही है. एक Post के अन्दर जितने भी Interlinks हैं वो सभी में Link Juice Pass करता है. इससे Search Engine bots को Crawl करना आसान होता है. Link Juice Post की Ranking के साथ – साथ DA और PA भी improve करता है. Link juice को रोकने के लिए Nofollow Tag Use किया जाता है.

Linking Root Domains : Same Website से कितने Backlink किसी अन्य Website पर जा रहा है. एक Particular Website पर यदि आपके Website को Number of backlinks मिल रहा है इसका मतलब है वह Particular Website आपके Blog के लिए Linking Root Domains की तरह काम कर रहा है.

Low Quality Links : Low quality Links का मतलब है Spam ! यह future में आपके Blog को नुकसान पहुंचा सकता है. इसलिए yadi कोई Low Quality Link है तो उसे रेमोवे कर दें. एक समय था जब Low Quality Backlinks से भी Site Rank कर जाता था. लेकिन Google Penguin Algo ने Backlinks का कहानी ही बदल दिया.


loading...
Loading...