[Health Tips] Diabetes Causes and Types ~ मधुमेह के कारण

[Health Tips] Diabetes Causes ~ मधुमेह के कारण
[Health Tips] Diabetes Causes ~ मधुमेह के कारण
========================================================================

Health Tips Diabetes Causes (मधुमेह के कारण)

========================================================================

loading...

Diabetes होने पर जब रक्त में Glucose स्तर बढ़ जाता है तब शरीर अतिरिक्त Glucose को पेशाब के माध्यम से शरीर से बाहर करके इस स्थिति से निपटता है ! रक्त में अतिरिक्त Glucose से धमनियां संकरी हो जाती हैं । जब यह बड़ी रक्त वाहिनियों (Blood vessel) को प्रभावित करता है तो हृदय रोग ( cardiovascular disease) बीमारिया उत्पन्न हो जाती हैं। और जब यह छोटी रक्त वाहिनियों, जैसे आंखों की कोशिकाओं को प्रभावित करता है तो इसके परिणामस्वरूप रेटिना के क्षतिग्रस्त होने से दृष्टि कमज़ोर हो जाती है और इससे अंधापन भी हो सकता है। रक्त में Glucose की अधिकता से Nerve sheaths में सूजन भी आ जाती है  जिससे मरीज को  पिन और सूइयों जैसी चुभन, सुन्नता आदि महसूस होती है !
*********************************************************************************

Read Also - Health Tips - इसे सिर्फ सूंघने से सिरदर्द का जड़ से सफाया, पीने से मर जायेंगे पेट के कीडे़ 

*********************************************************************************

डायबिटीज होने के कारण (Diabetes Causes)


बदली हुई जीवन शैली-वसायुक्त भोजन, शारीरिक गतिविधियों में कमी और तनावपूर्ण जीवन आदि मुख्य Diabetes Causes (मधुमेह के कारण) है। यह आजीवन रहने वाली बीमारी है ! Diabetes में मरीज़ की सक्रिय भागीदारी तथा Diabetes के उपचार के द्वारा इस पर नियंत्रण किया जा सकता है। Diabetes के साथ जीने का मतलब है एक अनुशासित और परिवर्तित जीवन शैली जिसे गरिमा पूर्वक स्वीकार करना चाहिए।

अगर Type -2 Diabetes है तो यह आनुवंशिक भी हो सकती है, तो अगर  माता-पिता को Type -2  शुगर की शिकायत है तो होने वाले बच्चों को शुगर की शिकायत की संभावना अधिक होती है
मोटापा – Diabetes Causes में सबसे ऊपर शुमार होता है , इसलिए सभी के लिए यह जरुरी है कि अपने शरीर पर मोटापा न आने दें। इसके लिए कम भोजन और वह भी कम वसा (fat) वाला होना चाहिए। ज्यादा से ज्यादा हरी सब्जियों और फलों का सेवन करना चाहिए।

अपने बच्चों को उचित खान-पान की आदत डालें। बच्चों को मोटापा बढाने वाले और ठंडे पेय पदार्थ (Soft Drinks) कम-से-कम देने चाहिए।
Toffee, Candy , chocolate, ice cream, मिठाइयां आदि का सेवन कम-से-कम करना चाहिए।
हर रोज कोई-न-कोई व्यायाम और योग आसन अवश्य करना चाहिए। शारीरिक श्रम (physical exercise/Activity) Diabetes दूर भगाता है।
व्यक्ति को गलत तथा अधिक आहार से Diabetes हो सकता है।
Diabetes से दूर रहने के लिए व्यक्ति को आरामतलबी और आलस्य की जिंदगी से बचने की कोशिश करनी चाहिए !

शराब पीना, धूम्रपान करना और अन्य नशे Diabetes को जन्म दे सकते हैं।
अगर आप इन सब “Diabetes Causes” को ध्यान में रख कर अपनी दिनचर्या तथा खानपान स्वस्थ रखेंगे तो यकीन मानिये आपको मधुमेह जैसी गंभीर बीमारी से दो चार नहीं होना पड़ेगा |
Diabetes के प्रकार:-
*********************************************************************************

Read Also - Health Tips - मुंह से बदबू आने के लक्षण और उपचार

********************************************************************************************************

 Type – 1 Diabetes 



इसे insulin dependent Diabetes mellitus के रूप में परिभाषित किया गया है। इस रोग में पैंक्रियाज़ इंसुलिन पैदा नहीं करता। पहले यह किशोर मधुमेह के नाम से भी जाना जाता था। इस प्रकार का मधुमेह मुख्यतः युवा बच्चों और वयस्कों में होता है। यह मधुमेह गंभीर होता है, लेकिन सही तरीके से इलाज करवाने पर लोग मधुमेह के साथ लंबे समय तक स्वस्थ व सुखी रह सकते हैं। इस प्रकार की Diabetes प्राय: बच्चों एवं युवाओं को होती है। इसमें Insulin का बनना न के बराबर होता है | यह Blood में Glucose की अधिकता तथा पेशाब में Glucose (ग्लाइकोसुरिया) से संबंधित है। इस मामले में Insulin Treatment बहुत ज़रूरी होता है।

Type-2 Diabetes


यह Non-Insulin Dependent बीमारी होती है। यह बीमारी ग़लत खानपान की आदतों एवं आराम दायक जीवन शैली के कारण आए मोटापे (obesity) की वजह से होती है। इसे सही आहार, नियमित व्यायाम, परिवर्तित जीवनशैली से काबू किया जा सकता है और में अधिकांश रोगियों को Insulin Treatment की आवश्यकता नहीं होती है।

गर्भावधि मधुमेह (Gestational Diabetes )


इस प्रकार की Diabetes गर्भावस्था (pregnancy) के दौरान विकसित होती है जो कुछ hormones के बढ़े हुए स्तरों, जो Insulin की कार्य प्रणाली को प्रभावित करते हैं, के कारण होती है। यह प्राय: बच्चे के जन्म के पश्चात समाप्त हो जाती है लेकिन Gestational Diabetes वाली पचास प्रतिशत महिलाओं को उनके बाद के जीवन में Type-2 Diabetes होने की संभावना होती है। इसलिए pregnancy के दौरान विशेष नियंत्रण और बच्चे के जन्म के पश्चात नियमित चिकित्सा जांच और एक Healthy Lifestyle की  ज़रूरी होती है। जो हम अपनी वेबसाइट पर समय समय पर डालते रहेंगे !

कुपोषण से जुड़ी Diabetes 


इसमें Fibro calculus pancreatic Diabetes (FCPD) तथा Protein deficiency Diabetes  शामिल होती हैं। ये अधिकतर उष्ण कटिबंधीय (Tropical Weather) एवं विकासशील देशों के निवासियों में देखने को मिलती है ।

(Weak glucose tolerance) दुर्बल Glucose सहनशीलता


इस मामले में, व्यक्ति के रक्त में Glucose का स्तर सामान्य range से तो ज़्यादा होता है परंतु यह इतना अधिक भी नहीं होता कि इसे Diabetes कहा जा सके। इन स्थितियों वाले व्यक्तियों के लिए अपनी खान-पान की आदतें सुधारना, नियमित व्यायाम करना व अपने वज़न को नियंत्रित रखने की आवश्यकता होती है।


loading...
Loading...