नारियल पानी के फायदे और नुकसान - Benefits and disadvantages of coconut water

 नारियल पानी के फायदे और नुकसान - Benefits and disadvantages of coconut water

नारियल पानी के फायदे और नुकसान


नारियल पानी एक बहुत एक स्वादिष्ट और कम कैलोरी वाला ताजा प्राकृतिक पेय है, पूरे दुनिया में हर उम्र के लोग इसे पीते हैं।

गर्मियों के दिनों में इसका सेवन आपके बॉडी के तापमान को सामान्य बनाएं रखता है और आपको शीतलता देता है। कच्चे नारियल के पानी में पके हुए नारियल पानी की तुलना में अधिक पोषक तत्व होते हैं। नारियल पानी शरीर में एक स्वस्थ पीएच बहाल करने में मदद करता है। यह अम्लता और पेट की जलन की वजह से अम्लीय पीएच स्तर को बनाए रखने में मदद करता है।

1. नारियल पानी के फायदे कम रक्तचाप के लिए


अपने विटामिन सी, पोटेशियम और मैग्नीशियम सामग्री के साथ परिपूर्ण नारियल पानी उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने के लिए अच्छा माना जाता है।

उच्च रक्तचाप को कम करने के लिए एक कप ताजा नारियल पानी दिन में दो बार पिएं। बोतलबंद नारियल पानी सोडियम में उच्च हो सकता है इसलिए ताजा नारियल पानी पीने की ही कोशिश करें।

2. नारियल पानी बेनिफिट्स बचाएं निर्जलीकरण


दस्त, उल्टी या अत्यधिक पसीना आने के कारण नारियल पानी निर्जलीकरण और शरीर में तरल पदार्थ की कमी को पूरा करने के लिए प्रयोग किया जाता है। नारियल पानी कार्बोहाइड्रेट का एक अच्छा स्रोत है, यह आपकी ऊर्जा के स्तर को उठाने में मदद करता है।

शोध बताते हैं कि नारियल पानी व्यायाम के बाद शरीर को रिहाइड्रेट करने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।

3. नारियल पानी के लाभ करें हृदय रोग के जोखिम कम


इसके अलावा, नारियल पानी में एंटीऑक्सीडेंट, सूजन को कम करने वाले और एन्टीप्लेटलेट गुण होते हैं और यह रक्त परिसंचरण में सुधार करने में भी मदद करता है। इस प्रकार, इसका सेवन हाइपर्टेंशन और स्ट्रोक के खतरे को कम करने में मदद करता है।

4. नारियल के पानी के फायदे हैं हैंगओवर उतारने के लिए



नारियल पानी भी हैंगओवर उतारने के लिए एक बहुत अच्छा प्राकृतिक उपाय है। शराब आपके शरीर की हाइड्रेशन को लूटती है और इस निर्जलीकरण की वजह आपकी सुबह उदास भरी बन जाती है। नारियल पानी में भरपूर मात्रा में इलेक्ट्रोलाइट पोटेशियम पाया जाता है जो हैंगओवर के दौरान शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स की कमी को पूरा करने में मदद करता है।

इसके अलावा, इस स्वास्थ्य पेय में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो बहुत ज्यादा शराब पीने की वजह से ऑक्सीडेटिव तनाव से लड़ने में मदद करते हैं।

आप 2 कप नारियल पानी और 2 कप पका हुआ आम को मिक्स करके इसमें 2 से 3 बड़े चम्मच नींबू के रस, 2 ताजा पुदीने की टहनियां और आधा कप बर्फ को मिलाकर स्मूदी तैयार कर सकते हैं।

5. नारियल पानी पीने के फायदे करें वजन को कम


नारियल पानी वजन घटाने के लिए एक बहुत अच्छा पेय है। यह कैलोरी में कम और पचाने में आसान होता है। इस हल्के और ताज़ा पेय में विभिन्न बायोएक्टिव एंजाइम होते हैं जो कि पाचन और वसा के चयापचय को बढ़ावा देने में सहायता करते हैं।

इसके अलावा, नारियल पानी पोटेशियम में समृद्ध है, जो सोडियम को बाहर करने में मदद करता है। शरीर में अतिरिक्त सोडियम शरीर में पानी के वजन को बढ़ाने में मदद करता है।नारियल पानी आपके शरीर से अतिरिक्त पानी के साथ साथ विषाक्त पदार्थों को बाहर निकलवाने में भी मदद करता है।

आप वजन घटाने के लिए सप्ताह में इस स्वास्थ्य पेय के 8 गिलास 3-4 बार पी सकते हैं। इसका सेवन, खाना खाने की इच्छा को भी कम करता है।

6. नारियल पानी का उपयोग दिलाए सिरदर्द से छुटकारा


अधिकांश सिर दर्द बल्कि माइग्रेन भी निर्जलीकरण के कारण होते हैं। ऐसे मामलों में, नारियल पानी शरीर के लिए इलेक्ट्रोलाइट्स की आपूर्ति और जल सेवन को बढ़ाने में बहुत मदद करता है।

नारियल पानी भी मैग्नीशियम में समृद्ध है। जो लोग अक्सर सिरदर्द से पीड़ित होते हैं उनमें मैग्नीशियम का स्तर निम्न होता है। अध्ययनों से यह भी सुझाव है कि मैग्नीशियम माइग्रेन की आवृत्ति को कम करने में मदद कर सकता है।

7. कोकोनट वाटर इन प्रेगनेंसी


गर्भावस्था के समय में महिलाओं को कई तरह के पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है। पोषक तत्वों की ज़रूरत न केवल गर्भवती महिला के लिए होती है बल्कि उसके गर्भ में पल रहें बच्चे की सेहत भी इसी पर निर्भर करती है। ऐसे में नारियल पानी एक प्राकृतिक और पोषण तत्वों से परिपूर्ण लवण युक्त पेय है जो गर्भवती महिला की पोषण से जुड़ी कई ज़रूरतो को पूरा करने में उपयोगी होता है।

गर्भावस्था में नारियल पानी के सेवन से सुबह जी मिचलाना (मॉर्निग सिकनेस), कब्ज और थकान दूर करने में मदद मिलती है, इसके अलावा यह प्रतिरोधक क्षमता को सुधारने और शरीर में पानी की कमी को दूर करने में भी उपयोगी है। यह शरीर में रक्त की मात्रा को बढ़ाने, मूत्र मार्ग संक्रमण को दूर करने और रक्तचाप को कम करने में भी मदद करता है।

8. नारियल पानी के उपाय करें मधुमेह का उपचार


नारियल पानी में एमिनो एसिड और आहार फाइबर होते हैं जो कि रक्त शर्करा को नियंत्रित और इंसुलिन के प्रति संवेदनशीलता में सुधार करने में मदद करते हैं।

नारियल पानी का सेवन मधुमेह के रोगियों के लिये बहुत लाभदायक है। यह आपके वजन को भी सामान्य रखने में मदद करता है। यह रक्त परिसंचरण के सुधार में मदद करता है। इसमें पाए जाने वाले पोषक तत्व, शरीर में शक्‍कर के स्तर को नियंत्रित रखते हैं। जो मधुमेह के रोगियों के लिए बहुत जरुरी है।

पत्रिका खाद्य और समारोह में प्रकाशित एक 2012 के अध्ययन परिपक्व नारियल पानी के उपचारात्मक प्रभाव का अध्ययन किया और पाया कि यह रक्त में शर्करा की मात्रा और ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करने में मदद करता है। मधुमेह से पीड़ित लोग इसके उपयोग से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श करें।

9. नारियल पानी के गुण करें गुर्दे के रोगों के खतरे कम


नारियल पानी एक प्राकृतिक मूत्रवर्धक के रूप में कार्य करता है। इस प्रकार, यह मूत्र उत्पादन और उसके प्रवाह को बढ़ावा देकर विषाक्त पदार्थों को शरीर से बाहर निकालता है। यह मूत्र मार्ग में संक्रमण जैसी समस्याओं को भी रोकने में मदद करता है। नारियल पानी में मौजूद उच्च मिनरल, पोटेशियम और मैग्नीशियम सामग्री के कारण यह गुर्दे में होने वाली पथरी के खतरे को कम करता है।


इसके प्रभाव को बढ़ाने के लिए, एक कप नारियल पानी में समुद्री नमक की एक चुटकी मिलाएँ और दिन में एक या दो बार इसे पिएं। इसकी मूत्रवर्धक गुणों के अलावा, नारियल पानी में एंटीबैक्टीरियल गुण भी होते हैं।

नोट: यदि आपके गुर्दे ठीक ढंग से काम नहीं करते हैं और आप में पोटेशियम का उच्च स्तर है तो आपको नारियल पानी नहीं पीना चाहिए।

10. नारियल पानी पीने के लाभ त्वचा को जवां बनाने के लिए


नारियल पानी में साइटोकाइनिन्स है जो कि कोशिकाओं और ऊतकों पर उम्र को कम करने वाले प्रभाव डालता है। इस अपक्षयी और उम्र से संबंधित बीमारियों के विकास के जोखिम को कम करता है।

आपकी त्वचा को नरम और चिकनी रखने के लिए नारियल पानी भी आपकी त्वचा को पोषण और हाइड्रेट करता है। नारियल पानी पीने के अलावा, आप एक पेस्ट बनाने के लिए 2 चम्मच चंदन पाउडर के साथ पर्याप्त मात्रा में नारियल पानी मिलाएं, अपनी त्वचा पर लगाएँ और अच्छी तरह से सुख जाने के बाद इसे धो लें।

Safety Tips:-

– जिन लोगों को नारियल पानी से एलर्जी है उनको इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

– यह कुछ लोगों में सूजन और पेट की परेशानी का कारण बन सकता है।

– किसी भी सर्जरी से कम से कम 2 सप्ताह पहले नारियल पानी नहीं पीना चाहिए क्योंकि यह सर्जरी के दौरान और सर्जरी के बाद रक्तचाप नियंत्रण में समस्या पैदा कर सकता है।

– गुर्दे के रोगों से पीड़ित लोगों को उनके स्वास्थ्य आहार में नारियल पानी शामिल करने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श करना चाहिए।

– यह एथलीटों के लिए एक बहुत अच्छा ड्रिंक नहीं है। यदि आप व्यायाम करने के बाद अपनी प्यास बुझाने के लिए नारियल पानी पीते हैं तो आपको इसकी बजाए सादा पानी पिएं। क्योंकि सादे पानी में सोडियम की राशि नारियल पानी की तुलना में ज्यादा होती है।

– बहुत ज्यादा मात्रा में इसका सेवन करने से आपको बार बार मूत्र त्याग के लिए जाना पड़ सकता है।

– नारियल पानी निश्चित रूप से आपके शरीर को ठंडक देता है। इसलिए शीतल प्रकृति वाले और ठंड से ग्रस्त लोगों को इसके सेवन से बचना चाहिए।

– नारियल पानी हमेशा ताजा ही पीना चाहिए। इसका खोलने के तुरंत बाद सेवन लाभकारी माना जाता है। क्योंकि इसे एक बार खोलने के बाद अगर देर तक रखा जाएँ यह अपने सभी लाभकारी पोषक तत्व खो देता है।

कुछ को लगता है कि नारियल पानी पीने के लिए सुबह का समय सबसे अच्छा होता है तो लोगों का मानना है कि इसके लिए शाम का समय सही होता है। पर विशेषज्ञों की मानें, तो सुबह के समय नारियल पानी पीना सबसे अधिक फायदेमंद होता है। यदि आप सुबह के समय नारियल पानी पीते हैं तो ये आपके शरीर को दिनभर ऊर्जावान बनाए रखता है।
loading...
Loading...